ऑस्ट्रेलिया से पत्रकारिता प्रबंधन की पढ़ाई करके लौटा युवक नोएडा आकर गांजा तस्कर बन गया। सेक्टर 49 थाना पुलिस ने आरोपी को उसके साथी के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरोपी दिल्ली, नोएडा व ग्रेटर नोएडा में ऑनलाइन और ऑन डिमांड यूनिवर्सिटी व कॉलेजों में गांजे की तस्करी कर रहा था। पुलिस को आरोपी की कार से लाखों रुपये सहित गांजा मिला है। 
जब आप इन कंपनियों को ज्वाइन करते हो तो वह आपसे अलग-अलग चीजों पर देने के लिए कहती है और आपको इसके बदले में कुछ पैसे देती है। लेकिन जरूरी नहीं कि हर बार आपको ऑपिनियन ही देना हो क्योंकि कई बार आपको कुछ एप्लीकेशन डाउनलोड करने के और किसी साइट पर रजिस्टर करने के भी पैसे मिलते हैं। आपको जिस चीज में इंटरेस्ट है आप उस तरह का सर्वे कर सकते हैं। यह पैसे कमाने का एक आसान तरीका है।
यदि आप college (student) में पढनें वाले छात्र है और part time online पैसे कमाने के लिए कोई तरीका ढूंढ रहे है जिससे आप घर बैठकर ऑनलाइन अपनी पढाई के साथ साथ कुछ पैसे बना सको और अपना खर्चा निपटा सको तो आप बिलकुल सही जगह पर है, यहाँ मैं students के लिए full time या part time काम (job) करके online पैसे कमाने के कुछ तरीके बता रहा हु जिनसे एक college छात्र online अपनी study के साथ आसानी से पैसे बना सकता है। तो, अगर आप एक student है और अपने लिए कोई ऐसा काम तलाश कर रहे है जिससे आप online पैसे कमा सकते है तो आप इस post को पढ़ सकते है इस post में college students के लिए online पैसे कमाने के कई आसान तरीके बताए गए है।
ऑनलाइन सर्वेक्षण करने, ऑनलाइन खोज करने और उत्पादों पर समीक्षा लिखने के लिए कई वेबसाइटें पैसे दे रही हैं। क्रेडिट प्राप्त करने के लिए, किसी को उनके बैंकिंग विवरण सहित कुछ जानकारी का खुलासा करने की आवश्यकता होती है। यही कारण है कि आपको इस मार्ग का अत्यंत सावधानी से उपयोग करना चाहिए। उनमें से कुछ परियोजनाओं पर काम करने से पहले आपको उनके साथ पंजीकरण करने के लिए भी कह सकते हैं। इस तरह की परियोजनाओं में सबसे महत्वपूर्ण घड़ी है वेबसाइटों से दूर रहना।
इन साइट्स पर अलग-अलग सब्जेक्ट के लिए अडवांस डिग्री की जरूरत भी होती है और तब ये ज्यादा भुगतान करती हैं। यही कारण है कि अप्लाइड फिजिक्स में मास्टर डिग्री और 20 साल से ज्यादा अनुभव रखने वाली सेनगुप्ता के पास ज्यादा विदेशी छात्र हैं। यहां तक कि कॉलेज स्टूडेंट्स या नॉन-टीचिंग प्रफेशनल्स जिनके पास कोई विशेष योग्यता है, वे भी इन साइट्स पर साइन अप कर सकते हैं।
सूत्रों ने बताया कि जियो ने एजुकेशन से जुड़ा कंटेंट तैयार करने और वोकेशनल ट्रेनिंग की संभावना पर काम करने के लिए एक प्रोजेक्ट टीम बनाई है। इस पेशकश से जियो को 2021 तक 50 पर्सेंट के रेवेन्यू मार्केट शेयर के टारगेट के करीब पहुंचने में मदद मिलेगी। अभी कंपनी का रेवेन्यू मार्केट शेयर लगभग 20 पर्सेंट का है। कंपनी के एक अन्य एग्जिक्यूटिव ने कहा, 'जियो एक प्लेटफॉर्म तैयार करने पर विचार कर रही है जहां स्टूडेंट्स को विभिन्न विषयों में ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जा सकेगी। यह एजुकेशन टेक्नोलॉजी कंपनी बायजू और इसी तरह के अन्य प्लेटफॉर्म की तरह होगा जो छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय हैं।'
×