नेशनल एग्जाम पॉलिसी (NEP) 2019 के ड्राफ्ट में सभी कॉलेज में नामांकन के लिए एक आदर्श प्रवेश परीक्षा का प्रस्ताव किया गया है. इसकी वजह यह है कि छात्रों को अलग-अलग विषय के लिए अलग विश्वविद्यालय में अलग परीक्षा देनी पड़ती है. अब जब बोर्ड एग्जाम में 95 फीसदी नम्बर लाना आम हो गया है, दिल्ली यूनिवर्सिटी के अधिकतर लोकप्रिय कोर्स में साल 2018 में कट ऑफ 96 फीसदी पर पहुंच गया था.
अगर आपकी राइटिंग स्किल्स बेहतर है तो आप ब्लॉगिंग को इंटरनेट से पैसा कमाने के लिए जरूर चुनिए। शुरुआत में आपको इस में दिक्कत आ सकती है लेकिन धीरे-धीरे यह आप को सबसे बेस्ट और आसान लगने लगेगा। Blogging में जितनी जरूरी आपकी मेहनत होती है उतना ही आपका सब्र भी होता है। Blogging से आप हजारो नही बल्कि लाखो रुपये भी कमा सकते है। आप अगर इंग्लिश में कमजोर हो तो हिंदी में भी अपना ब्लॉग स्टार्ट कर सकते हो।
कुछ साइट्स छात्रों के साथ सीधे ट्रांजैक्शन की अनुमति देते हैं, जिसका मतलब है कि आप अपने हिसाब से रेट तय कर सकते हैं। वहीं वेदांतु जैसी साइट्स ने एक तय पे स्ट्रक्चर सेट किया हुआ है। वेदांतु के सीईओ और को-फाउंडर वामसी कृष्णा का कहना है, 'हम फुल-टाइम ट्यूटर्स को हर महीने सैलरी पे करते हैं जबकि पार्ट-टाइम टीचर्स को प्रति लेक्चर के हिसाब से भुगतान किया जाता है।'
आप में से कई लोगों ने इस शब्द को पहले भी सुना है, लेकिन वास्तव में यह नहीं जानते कि ऐसा क्या है, ब्लॉगिंग को समझने के लिए हमें यह समझने की आवश्यकता है कि ब्लॉग क्या है? यह एक नियमित रूप से अपडेट की गई वेबसाइट या वेब पेज है, आमतौर पर एक व्यक्ति या छोटे समूह द्वारा चलाया जाता है और अपने ब्लॉग को दैनिक रूप से अपडेट करने को ब्लॉगिंग के रूप में जाना जाता है। ऐसी कई साइटें हैं जिन पर आप अपना फ्री ब्लॉग बना सकते हैं जैसे Blogger, WordPress, Wix, Weebly e.t.c। आप बस इस तरह की वेबसाइट बना सकते हैं जैसे कई Unstoppable कई ब्लॉगर भारत में प्रति दिन लगभग $ 4 से $ 10 तक कमाते हैं, लगभग 280 से 700 रुपये। एक महीने में कुछ दिनों में $ 120 से $ 300। यदि आप इसके बारे में कोई तकनीकी ज्ञान नहीं रखते हैं, तो भी आप ब्लॉगिंग कर सकते हैं। 
अगर आपकी राइटिंग स्किल्स बेहतर है तो आप ब्लॉगिंग को इंटरनेट से पैसा कमाने के लिए जरूर चुनिए। शुरुआत में आपको इस में दिक्कत आ सकती है लेकिन धीरे-धीरे यह आप को सबसे बेस्ट और आसान लगने लगेगा। Blogging में जितनी जरूरी आपकी मेहनत होती है उतना ही आपका सब्र भी होता है। Blogging से आप हजारो नही बल्कि लाखो रुपये भी कमा सकते है। आप अगर इंग्लिश में कमजोर हो तो हिंदी में भी अपना ब्लॉग स्टार्ट कर सकते हो।
क्या आप ऐसी दुनिया में काम करना चाहते हैं, जहां आप वो कर सकें जो वाकई आप करना चाहते हैं? आप अपने इन सपनों को पंख घर बैठे देना चाहते हैं और किसी ऑफिस या मार्केटिंग जैसे वर्कप्लेस पर नहीं जाना चाहते? शहरी भारत में करीब 15 मिलियन लोग अपने इस सपने को जी रहे हैं। यह जानकारी फ्रीलांसर इनकम्स अराउंड द वर्ल्ड रिपोर्ट 2018 में सामने आई है। ये लोग सेल्फप्रेन्योर्स है और ये लोग खुद के मालिकाना हक वाला अपना कारोबार कर रहे हैं। ये लोग तेजी से बढ़ रहे उस ग्रुप का हिस्सा हैं जो देश की इकॉनमी में अपना योगदान दे रहे हैं।
×